Menu
Your Cart

1 Mukhi Certified Rudraksha Price - 500/- rs Only.

Natural Certified Navratana Stones Super Luxury Quality

Natural Certified Navratana Stones Super Luxury Quality

Description

नवरत्‍न यानी कि नवग्रह के रत्‍न जिनमें माणिक मोती मूंगा पन्‍ना पुखराज हीरा नीलम गोमेद और लहसुनिया शामिल होता है। ये 9 रत्‍न एक साथ जहां उपस्थित हो जाएं वहां किसी भी चीज की कमी नहीं होने देते। ये 9 की 9 शक्ति‍यां एक साथ मिलकर संपूर्ण होती हैं। यह संपूर्णता नवरत्‍न धारण करने वाले के जीवन में भी साफ दिखाई देती है।

इसको कोई भी व्‍यक्ति धारण कर सकता है चाहे वह स्‍त्री हो या पुरूष। इसके धारण करने से नव ग्रहों से दोष खत्‍म होकर शुभ फल प्राप्‍त होते हैं और जातक को आयु-आरोग्‍यता धन पद प्रतिष्‍ठा पारिवारिक शांति प्राप्‍त होती है।

ऐसे व्‍यक्ति जिनकी कुंडली में अधिकांश ग्रह कमजोर हों वो भी नवरत्‍न के किसी भी स्‍वरूप को धारण कर सकते हैं जैसे लॉकेट में अंगूठी में या फिर ब्रसलेट में।

इसे धारण करने से प्रत्‍येक कार्य में आपको मेहनत का संपूर्ण फल प्राप्‍त होता है और मानसिक शांति बनी रहती है। ऐसा भी कहा गया है कि कुंडली के कई दोषों को दूर करने के लिए भी इसे धारण करना सबसे उत्‍तम माना गया है।

अगर ये कहा जाए कि सभी उपायों में सबसे सर्वश्रेष्‍ठ उपाय है नवरत्‍न धारण करना तो यह अतिश्‍योक्‍ति न होगी।

कौन करे धारण:

1.  अगर संपूर्ण प्रयासों के बाद भी कहीं सफलता नहीं मिल रही हो तो नवरत्‍न की अंगूठी धारण करना विशेष लाभकारी होती है।

2.  मानसिक थकान हो या कोई ग्रह बाधा हो तो भी नवरत्‍न धारण करना अवश्‍य चाहिए।

3. अगर रंग चिकित्‍सा की बात करें तो नवरत्‍न धारण करने से शरीर में प्रकाश की सभी रश्मियों की मात्रा सही अवस्‍था में रहती है जिस कारण व्‍यक्ति की काया निरोगी बनती है और वह आकर्षक बना रहता है।

4.  अगर आपको उचित सम्‍मान नहीं‍ मिलता आपके कार्य का श्रेय और आपकी मेहनत का फल तक आपको नहीं मिल रहा है तो आपको बिना देर किए नवरत्‍न धारण करना चाहिए।

लाभ

1: ग्रह दोष दूर होते हैं।

2: कमजोर ग्रह मजबूत होते हैं और प्रयास का संपूर्ण फल मिलता है।

3: समाजिक मान प्रतिष्‍ठा में वृद्धि होती है।

4: स्‍वास्‍थ्‍य वृद्धि के लिए सबसे उपयुक्‍त उपाय है।

5: आर्थिक स्‍थ‍िति मजबूत होती है और कार्य में वृद्धि होती है।

पहनने की विधि :

आप नवरत्न अंगूठी को अमावस को छोड़कर किसी भी दिन सुबह स्नान करके के बाद  धारण कर सकते हैं। अंगूठी धारण करने से पहले अपने लदेवता तथा विष्णु देव को याद करते हुए, पूरी श्रद्धा से पूजा अर्चना करके अपने सीधे हाथ की मध्यमा या तर्जनी अंगूली में धारण करना लाभदायक होता है।

Natural Certified Navratana Stones Super Luxury Quality
Rs. 3,000.00
Ex Tax: Rs. 3,000.00
  • Stock: In Stock
  • Model: Navratan Stones

Write a review

Note: HTML is not translated!
Bad Good
We use cookies and other similar technologies to improve your browsing experience and the functionality of our site. Privacy Policy.